Skip to main content

Best Scooter in India?

Best scooter in 2020??


नमस्कार दोस्तों आज हम बात करेंगे 2020 में लॉन्च हुए ऐसे स्कूटर के बारे में जो ऑटोमोबाइल मार्केट में काफी वर्षों से एकछत्र राज कर रहा है इसका मुकाबला आज तक ऑटोमोबाइल इंडस्ट्री का कोई स्कूटर नहीं कर पाया।
तो चलिए आज शुरू करते हैं होंडा एक्टिवा 6G bs6 के बारे में कुछ रोचक व ज्ञानवर्धक जानकारी हिंदी में:-

Best Scooter in India?
activa

फ्रंट:- 

यह स्कूटर सामने से देखने में काफी खूबसूरत है और पहले कि जैसे ही दिखता है हालांकि इसके फ्रंट में ज्यादा बदलाव नहीं किए गए हैं| इसकी नोज फ्रॉम स्ट्रिप के साथ आ गई है इसमें आगे एलईडी लाइट्स दिए गए हैं और फ्रंट का डिजाइन थोड़ा चेंज है| बल्व इंडिकेटर मिलते हैं व इसकी फ्रंट बॉडी मेटल की मिलती है और इसका मडगार्ड भी मेटल का है इसकी मजबूती काफी बढ़ाता है।

साइड:- 

साइड से भी यह स्कूटर आपको पहले के जैसे दिखेगा हालांकि इसके साइड पैनल को चेंज किया गया है जो भी मेटल का ही है और एक्टिवा 6g  की ब्रांडिंग मिलती है और यह मेटल का होने की वजह से काफी स्ट्रॉन्ग है।
Best Scooter in India?
activa-side-panel



बैक:- 

Best Scooter in India?
activa-fuel-cap
इसमें पीछे की और काफी बदलाव किए गए हैं।इसमें पीछे की और महत्वपूर्ण बदलाव इसके फ्यूल फिलिंग कैप में किया गया है जो पहले सीट के नीचे मौजूद था और आपको पेट्रोल बनाते समय सीट को खोलना और बंद करना पड़ता था| जो एक अच्छा फंक्शन नहीं था अब फ्यूल कैप को पीछे की टेल लाइट के ऊपर शिफ्ट किया गया है जिससे आप बिना सीट को खोले ही पेट्रोल भरवा सकते हैं जो एक अच्छा फीचर है अब आपको पेट्रोल भरवाते समय सीट को खोलने व बंद करने की समस्या से निजात मिल जाएगी।
पीछे का मडगार्ड और पीछे की बैक लाइट भी बदली गई है।


सस्पेंशन:-

 इस स्कूटर में महत्वपूर्ण बदलावइसके फ्रंट सस्पेंशन में किए गए हैं जिसकी डिमांड काफी समय से थी अब इसके फ्रंट सस्पेंशन नॉर्मल से टेलीस्कोपिक किए गए हैं जो काफी अच्छा बदलाव है। अब आप को रोड के गड्ढे कम महसूस होंगे जो पहले काफी महसूस होते थे। आपके कंफर्ट को ये सस्पेंशन काफी बढ़ाएंगे।

डैशबोर्ड:- 

इसके डैशबोर्ड में कई बदलाव किए गए इसके इंस्ट्रूमेंट क्लस्टर में भी काफी बदलाव हुए हैं इसमें महत्वपूर्ण  बदलाव
Best Scooter in India?
activa 6g-dashboard
इंजन किलस्विच का किया गया है इंजन किलस्विच और इंजन स्टार्ट स्विच एक ही स्विच  के साथ जोड़े गए हैं जो काफी अच्छा फंक्शन है आप एक ही जगह से गाड़ी को स्टार्ट और बंद कर सकते हैं।
इसके इंस्ट्रूमेंट क्लस्टर में फ्यूल इंजेक्शन का इंडिकेटर, फ्यूल मीटर,ऑडोमीटर, हाई बीम, लो बीम , साइड इंडिकेटर आदि को दर्शाने के ऑप्शन दिए गए हैं|  साथ ही स्कूटर के सभी स्विच भी बदल दिए गए हैं और इसके स्ट्रूमेंट क्लस्टर में येलो कलर की एम्बिएंट लाइटिंग जैसा फंक्शन दिया गया है जो रात को जलने में काफी अच्छी दिखती है।
और आपको एक अलग ही एहसास कराएगी।
इसका साइलेंसर भी चेंज किया गया है कूलिंग फैन का सिस्टम भी चेंज किया गया है कैटालिटिक कन्वर्टर ऑक्सीजन सेंसर के साथ आपको अंदर की ओर मिल जाता है।

इंजन:-

इसमें आपको 109.51 सीसी का एयर कूल्ड फॉर स्ट्रोक फ्यूल इंजेक्शन वाला bs6 इंजन मिलता है।

पावर:- 7.7 Bhp @8000 rpm
टाॅर्क:- 8.7 NM @ 5250 rpm
बोर:- 47 MM
स्ट्रोक:- 63.1 MM

इसके इंजन के साथ ए एस जी स्टार्टर दिया गया है इस टेक्नोलॉजी की वजह से स्कूटर काफी साइलेंट स्टार्ट होता है। जिसका यूजर को पता नहीं चलता कि स्कूटर कब स्टार्ट हुआ।

की- फंक्शन:-  इसके कि के साथ काफी फंक्शन जोड़े गए हैं स्कूटर के ऑन ऑफ की जगह ही आपको सीट ओपन करने का ऑप्शन, पेट्रोल केप‌ ओपन करने का ऑप्शन मिलता है जो एक काफी अच्छा ऑप्शन है और सारी उपयोग की चीजें आपको एक ही जगह उपलब्ध करवा दी गई है।

अंडर सीट स्पेस:- इसका अंडर सीट स्पेस आपको पहले से ज्यादा मिलता है। इसमे टूलकिट और फर्स्ट एड किट मिल जाता है और इसका अंडर सीट कवर पैनल भी चेंज किया गया है|  स्कूटर में आगे की और दो हुक दिए गए हैं जहां आप लगेज टांग सकते हैं जो एक यूटिलिटी के लिए अच्छा फीचर है।

व्हील:-

बैक- 90/100, 10 का ट्यूबलेस टायर 10 इंच के रिम के साथ मिलता है।
रियर:- 90/90, 12 का ट्यूबलेस टायर 12 इंच के रिम के साथ मिलता है।

सीट हाईट:- 765 MM
वजन :- 107 kg
ग्राउंड क्लीयरेंस:- 171 MM
फ्यूल टैंक:- 5.3 लीटर

माइलेज:- 

activa  में फ्यूल इंजेक्शन टेक्नोलॉजी वजह से इसका माइलेज पहले से काफी बढ़ गया है इसका माइलेज लगभग 50 से लेकर 60 तक आपको आराम से मिल सकता है

कीमत:- इसकी वर्तमान में एक्स शोरूम कीमत ₹65000 के लगभग रखी गई है। यह 2 वेरिंट्स में मौजूद है|

ब्रेक:-

इसमें कॉम्बी ब्रेक का सिस्टम पहले से ही मिलता है तो काफी अच्छा काम करता है और इस स्कूटर की ब्रेकिंग काफी अच्छी है।
इस में महत्वपूर्ण बदलाव इसके बैटरी कंपार्टमेंट में किया गया है जो पहले आगे मौजूद था अब बैटरी को इसके फुट पेडल में दिया गया है जहां बैटरी बॉक्स मिलता है।

गुरुज्ञान :-

अगर आपको ऐसा स्कूटर चाहिए जो दिखने में काफी खूबसूरत हो साथ ही उसकी मार्किट में काफी डिमांड हो तो यह स्कूटर आपके लिए है| यह काफी प्रैक्टिकल स्कूटर है जो काफी वर्षो से भारतीय मार्केट में मौजूद है | इसके पार्ट्स भी आपको काफी आसानी मिल जायँगे| अगर आप ज्यादा दिमाग नहीं लगाना चाहते तो यह एक सेफ ऑप्शन हैं| हालाँकि इससे भी कही अच्छे ऑप्शन भी ,मार्केट में मौजूद है पर इसका कोई तोड़ नहीं क्योकि हौंडा ने  इसकी सभी कमियों को 2020 में दूर कर दिया है | हौंडा  की आफ्टर सेल सर्विस भी  काफी अच्छी है|  इन सब खूबियों की वजह से वजह से आप activa को  कंसीडर  कर सकते है | 

कंटेंट  को यहाँ तक पढ़ने के लिए आपका बहुत बहुत धन्यवाद इसे आप अपने अपने मित्रो और रिश्तेदारों साथ शेयर करे जिससे उन्हें भी इस जानकारी का लाभ मिल सके| 





Comments

Post a Comment

please do not enter any spam link in the comment box.

Popular posts from this blog

Best engine oil? 10 W 30 या 5 W 60?

मेरी कार के लिए कोनसा इंजन आयल सही है? नमस्कार दोस्तों, क्या आप की कार और बाइक की परफॉर्मेंस कम होती जा रही है पहले जैसा पिकअप स्मूथनेस नहीं है? मुझे अपनी कार या बाइक में कौन सा इंजन ऑयल डालना चाहिए? सबसे महत्वपूर्ण बात कि इंजन ऑयल क्या होता है? इंजन ऑयल कितने प्रकार के होते हैं? इंजन ऑयल कैसे काम करता है? मुझे कौन सी कंपनी का इंजन ऑयल लेना चाहिए? engine oil draining अगर आपके भी मन में यह सब प्रश्न है तो चलिए शुरू करते हैं इनका समाधान कुछ सामान्य से प्रश्नों के साथ:- प्रश्न:- इंजन ऑयल क्या होता है? उत्तर:- इंजन ऑयल पैट्रोलियम हाइड्रोकार्बन है जो क्रूड ऑयल से बनाया जाता है क्रूड ऑयल एक पेट्रोलियम पदार्थ ही है|  साधारण ऑयल में बेस 70 से 76 प्रतिशत बेस ऑयल होता है इसके साथ में कुछ रंग, एडिटिव, डिटर्जेंट आदि मिलाए जाते हैं जो इंजन को साफ व ठंडा रखते हैं। प्रश्न:-इंजन ऑयल के खराब होने का पता कैसे चलता है? उत्तर-इंजन ऑयल के खराब होने का पता लगाने के लिए इसमें रंग मिलाए जाते हैं, जिससे इंजन ऑयल खराब होने पर ऑयल का रंग परिवर्तित हो जाता है और हमें इसका पता चल जाता

AMT VS CVT VS DCT VS DSG VS TORQUE CONVERTOR IN HINDI

AMT VS CVT VS DCT VS DSG VS TORQUE CONVERTOR IN HINDI नमस्कार दोस्तों आपने पहले AMT के बारे में जाना तो आपने पढ़ा कि एएमटी मैन्युअल गियर बॉक्स है ना कि ऑटोमेटिक। तो आपने सोचा होगा कि असली ऑटोमेटिक क्या होता है? तो आज हम फेमस ऑटोमेटिक गियर बॉक्स के बारे में विस्तार से बात करेंगे जिनमें C.V.T. , D.C.T./ D.S.G.,  Torque convertor आदि शामिल है। इसमें कोई ज्यादा टेक्निकल बात ना करके केवल टेक्नोलॉजी को अपनी मातृभाषा हिंदी में सरल शब्दों के साथ पहुंचाने का प्रयास है तो आप इसे उसी तरीके से लेंगे तो चलिए शुरू करते हैं:- सबसे पहले हम सबसे पुरानी ऑटोमेटिक सिस्टम टॉर्क कनवर्टर यानी टीसी पर बात करेंगे। 1. टॉर्क कन्वर्टर:- Torque converter कुछ पार्ट्स से मिलकर बना होता है , जिनमें एक छोटा और एक बड़ा फैन शामिल है। फैन में 24 से लेकर 40 ब्लेड लगे होते हैं जो इंजन से कनेक्ट होता है। दूसरा फेन पहले फेन से जुड़ा होता है और दोनों फेन के बीच ऑयल भरा जाता है। दोनों फेन को आपस में सील कर दिया जाता है। इनमें से एक फैन इंजन की तरफ लगा होता है जो इंजन को घुमाता है दूसरा फैन इंजन के घूमने के कार

Airbag, एयरबैग क्या है ?

Airbag in a car नमस्कार दोस्तों, आज हम बात करेंगे एयर बैग के बारे में, क्या आपके दिमाग में भी ऐसे प्रश्न है एयरबैग क्या है? एयरबैग कैसे काम करता है? कार में यह फीचर कहां लगा होता है? और वह कब खुलते हैं?  यह कितनी स्पीड से खुलते हैं? कार में कितने एयरबैग जरूरी है? तो चलिए इन प्रश्नों के जवाब देने कि कोशिश, कुछ साधारण से प्रश्नों के साथ:- airbag-sign प्रश्न:- एयरबैग क्या है? उत्तर:- जब भी आप किसी कार की स्टेरिंग देखते तो उस पर आपको SRS-AIRBAG लिखा होता है। इसका मतलब है कि इस गाड़ी में एयर बैग है यह एक प्रकार के बैग होते हैं जो कॉटन के बने होते हैं व इन पर सिलिकॉन की कॉटिंग की जाती है। इनमें दुर्घटना के समय नाइट्रोजन गैस भर जाती है। best car charger in discount from amazon.com प्रश्न:- कार में एयरबैग कहां कहां लगाए जाते हैं? उत्तर:- यह कार निर्माता कंपनी पर निर्भर करता है कि वह कार को कितना सुरक्षित बनाती है। यह कार के स्टीयरिंग व्हील पर , दरवाजों पर , डेश बोर्ड पर, डैशबोर्ड के नीचे, छत पर आदि जगहों पर लगाए जाते हैं। curtain-airbag प्रश्न:- एयर बै

Mahindra Bolero 2020

Mahindra Bolero 2020 नमस्कार दोस्तों आज हम बात करेंगे एक ऐसी सेवन सीटर एसयूवी के बारे में जो साधारण सी डिजाइन इंटीरियर व‌ साधारण से फीचर्स के साथ भी भारतीय सड़कों पर राज कर रही है आज हम बात करेंगे महिंद्रा की सबसे ज्यादा बिकने वाली सेवन सीटर एसयूवी महिंद्रा बोलेरो जिसका हाल ही में फेसलिफ्ट वर्जन लांच हुआ है जो  bs6 इंजन के साथ मौजूद है तो चलिए शुरू करते हैं कुछ खास बातें bolero के बारे में:- mahindra-bolero-2020 एक्सटीरियर:- इसका फ्रंट काफी अट्रैक्टिव बनाया गया है और पुरानी बोलेरो की तुलना में देखने में यह काफी अच्छा लग रहा है । इसमें नई चोड़ी ग्रिल, नए हेडलैंप व नई बंपर डिजाइन देखने को मिलती है। इसकी हेडलाइट में इंडिकेटर, डीआरएल, हेड लैंप आदि के पार्ट्स अलग अलग देखने को मिलते हैं इसके साइड में ज्यादा बदलाव नहीं है यह पहले की जैसी डिजाइन के साथ आती है । इसमें विंडो ग्लास एरिया काफी बड़ा मिलता है, जिससे अंदर बैठने वाले पैसेंजर्स को काफी सुविधा रहती है। पीछे की और भी ज्यादा बदलाव नहीं है। पीछे के दरवाजे पर व्हील कवर के साथ मौजूद है। टेल लैंप की डिजाइन बदली गई है। इसमें

AMT CAR vs MANUAL CAR

ए एम टी  या मैन्युअल ?? AMT CAR VS MANUAL CAR gearbox नमस्कार दोस्तो, क्या आप भी कार लेने की सोच रहे है। लेकिन आप समझ नहीं पा रहे की मुझे AMT कार लेनी चाहिए या मैनुअल कार लेनी चाहिए? इन दोनों में से मेरे लिए कोनसी बेहतर रहेगी? क्या amt गियर वाली कार उस जगह पर जा सकती है जहां मैन्युअल कार जाती हो? तो चलिए इस कंटेंट के माध्यम से इन्हीं सभी प्रश्नों के उत्तर देने की कोशिश है :- प्रश्न:- क्या AMT और AUTOMATIC गियरबॉक्स एक ही है? उत्तर:- जी नहीं, AMT और AUTOMATIC दोनों कांसेप्ट बिल्कुल अलग अलग है। AMT :- automated manual transmission होता है। यह भी एक प्रकार का मैनुअल ट्रांसमिशन ही होता है। AMT कारों में मैन्युअल गियर बॉक्स ही लगा होता है और पांच या छह गियर लगे होते हैं और यह एक-एक करके गियर बदले जाते हैं जिस गियर की कार को जरूरत होती है| जैसे हम मैनुअल गियरबॉक्स वाली कार में पैर से क्लच दबाकर वह हाथ से गियर लगाकर बदलते हैं। तो फिर यह एमटी कैसे हुआ? Manual गियर बॉक्स को AMT में मात्र एक सॉफ्टवेयर बदलता है जिसमें एक टी सी यू (transmission control unit) लगा होता है